दूर - दराज से लोग पहुंचे सूर्य की नगरी देव

दूर - दराज से लोग पहुंचे सूर्य की नगरी देव

दूर - दराज से लोग पहुंचे सूर्य की नगरी देव

दूर - दराज से लोग पहुंचे सूर्य की नगरी देव


रामाशंकर  चौबे/गरीब दर्शन

कैमूर - लोक आस्था का पर्व छठ पर्व शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया। औरंगाबाद से लगभग  18 किलोमीटर दूर स्थित देव स्थान है। यह स्थान भगवान सूर्य के नगरी के नाम से भी जाना जाता है। देव  छठ पर्व के लिए बहुत महत्वपूर्ण स्थान माना जाता है । यहां छठ पर्व बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। बिहार तथा अन्य क्षेत्रों से लोग देव पहुंच कर छठ करते है। देव में भगवान सूर्य को समर्पित मंदिर है । पौराणिक मान्यताओं के अनुसार देव स्थित भगवान सूर्य का मंदिर भगवान विश्वकर्मा नें बनाया था। देश विदेश के लोग देव पहुँच कर छठ व्रत करते हैं। कैमूर जिला के सोनहन थाना क्षेत्र के नारायणपुर गांव से पहुंचे भोजपुरी गायक अंकित पाण्डेय ने बताया की देव मे छठ करना सौभाग्य माना जाता है । यहां पहुंच कर मुझे तथा मेरे परिवार को बहुत अच्छा लग रहा है। कैमूर क्षेत्र के भभुआ प्रखंड के भारतीय जनता पार्टी के प्रखंड उपाध्यक्ष रिंकू चौबे ने बताया की देव में पहुंचकर मन को जो शांति मिलती है वह कहीं  संभव नहीं है। यहां पर कई जगहों के लोग आकर लोक आस्था का पर्व छठ पर्व को मनाते हैं। यह एक मनोरम दृश्य है जिसको हम शब्दों में नहीं बयां कर सकते । अपने जीवन में हर किसी को एक बार यहां छठ के लिए पहुंचना चाहिए।